सीबीएसई 12वीं के अंकों से नहीं संतुष्ट तो तुरंत यहां करें आवेदन, CBSE ने दिया मौका

CBSE 12th Marks Verification/Improvement : 12 अगस्त 2021 तक कर सकते हैं आवेदन

सीबीएसई 12वीं परीक्षा(cbse 2th exam) में जो स्टूडेंट्स अपने मॉर्क्स से satisfy नहीं हैं, उनके लिए बोर्ड ने 16 अगस्त से होने वाले एग्जाम से अलग भी व्यवस्था की है। आप इस व्यवस्था का लाभ ले सकते हैं। इसके लिए केवल 09 अगस्त से 12 अगस्त 2021 के बीच ही आवेदन कर सकते हैं।

सीबीएसई बोर्ड आपको रिजल्ट/ मार्क्स वेरिफिकेशन (CBSE Marks verification 2021) का मौका दे रहा है। इसके लिए बोर्ड ने नई डिस्प्यूट रिड्रेसल पॉलिसी (CBSE Dispute Redressal Policy) जारी की है। यहां डीटेल में समझें आप इसका लाभ कैसे ले सकते हैं?

CBSE ने जून में टैबुलेशन पालिसी को जारी करते हुए 12वीं के परिणाम का फार्मूला दिया था। इसके तहत 12वीं में मिड टर्म, यूनिट व प्री बोर्ड परीक्षा के 40%, 11वीं कक्षा के 30% और 10वीं में बेस्ट तीन विषयों के 30% अंकों को आधार बनाया गया था। बोर्ड ने असंतुष्ट छात्रों को अंकों से जुड़े विवाद को लेकर दावा करने का अवसर देने की बात कही थी।

CBSE ने सर्कुलर जारी करते हुए स्पष्ट किया है कि इसके लिए वह छात्र विवाद को लेकर दावा कर सकते हैं, जो अंकों से संतुष्ट नहीं हैं या फिर समिति की ओर से अंक गणना में गलती है। साथ ही नई मूल्यांकन नीति को लेकर आपत्ति रखने वाले छात्र भी आवेदन कर सकते हैं।

ऐसे करें आवेदन
अंकों से असंतुष्ट छात्रों को अपने स्कूलों के प्राधानाचार्यों को पत्र के माध्यम से अपनी आपत्तियां बतानी होंगी। इसके बाद स्कूल इस रिकार्ड को आनलाइन व आफलाइन दोनों तरीके से अपने पास रखेंगे। वहीं, परिणाम को तैयार करने वाली समिति छात्रों की आपत्तियों के आधार पर परिणाम की जांच करेगी। जांच करने पर यदि परिणाम सही पाया जाता है और आपत्ति का कोई कारण नहीं निकलता है तो छात्र को समिति की ओर से जवाब भेज दिया जाएगा। इस पूरी प्रक्रिया का रिकार्ड स्कूलों को भी अपने पास रखना होगा। वहीं, बोर्ड ने इस पूरी प्रक्रिया को टाइप-एक श्रेणी में रखा है।

त्रुटि पर सीबीएसई रीजनल ऑफिसर करेंगे निपटारा
यदि छात्रों के मूल्यांकन में कोई गलती पाई जाती है तो परिणाम समिति की ओर से सभी दस्तावेजों के साथ गलती होने व इसके प्रभाव को लेकर स्कूलों को सूचित किया जाएगा। साथ ही स्कूल के प्रिंसिपल व परिणाम समिति के अध्यक्ष द्वारा क्षेत्रीय कार्यालय में भी सूचना दी जाएगी। इसके बाद सीबीएसई के रीजनल ऑफिसर इस मामले में निर्णय लेकर जरूरी सुधार करेंगे।। साथ ही क्षेत्रीय कार्यालयों की ओर से इस तरह के सभी मामलों को मुख्यालय में भी रिपोर्ट देनी होगी। स्कूलों की ओर से क्षेत्रीय कार्यालयों में स्कूल रिक्वेस्ट सबमिशन फार रिसोल्यूशन (एसआरएसआर) के माध्यम से आवेदन भेजा जाएगा। इसके लिए स्कूल लाग-इन करने पर लिंक से आवेदन भेज सकेंगे। आवेदन करते समय स्कूलों को टाइप दो पर क्लिक करना होगा।

गलत अंकों को लेकर स्कूल कर सकेंगे आवेदन
यदि छात्रों का गलत अंकों को लेकर विवाद है तो स्कूल की ओर से लाग-इन कर लिंक से टाइप तीन पर क्लिक कर आवेदन करना होगा। इसके तहत अंकों की गलत गणना व परिणाम अपलोड करने में हुई त्रुटि की जांच की जाएगी। इसकी जांच के लिए सीबीएसई के सहायक सचिव, केंद्रीय विद्यालयों के प्रधानाचार्य, निजी स्कूलों के प्रधानाचार्य व शिक्षा निदेशक स्तर तक के अधिकारी जांच समिति में शामिल होंगे। समिति अपनी जांच पूरी कर क्षेत्रीय कार्यालयों को रिपोर्ट सौंपेगी। जांच करने पर यदि परिणाम में कोई गलती नहीं पाई जाती है तो क्षेत्रीय कार्यालयों की ओर से छात्रों को जानकारी दी जाएगी। वहीं, यदि परिणाम में कोई गलती है तो ऐसे परिणामों में क्षेत्रीय कार्यालयों द्वारा सुधार किया जाएगा व इस संबंध में मुख्यालय को भी रिपोर्ट भेजनी होगी।

किस तरह के विवाद का निपटारा कैसे होगा
टाइप 1- सबसे पहले स्टूडेंट अपने स्कूल प्रिंसिपल को रिजल्ट वेरिफिकेशन के लिए लिखेंगे। इसमें आपके दावे और उसके आधार की पूरी डीटेल होनी चाहिए। प्रिंसिपल इसे उसी रिजल्ट कमेटी को भेजेंगे जिसने परिणाम तैयार किया था। कमेटी सीबीएसई की रिजल्ट पॉलिसी 2021 के निर्देशों के तहत ही इसे वेरिफाई करेगी। सभी रिकॉर्ड और डॉक्यूमेंट्स चेक किये जाएंगे। अगर कोई गलती नहीं मिलती है, तो स्कूल उस स्टूडेंट को जवाब भेजकर इसकी जानकारी देंगे। साथ ही इन सभी मामलों के रिकॉर्ड भी रखेंगे।

टाइप 2- अगर टाइप 1 की प्रक्रिया के तहत रिजल्ट कमेटी को परिणाम में कोई गड़बड़ी मिलती है, तो कमेटी इसकी जरूरी डॉक्यूमेंट्स के साथ जानकारी प्रिंसिपल को देगी। साथ ही ये भी बतायेगी कि गड़बड़ी कैसे हुई और इसका अन्य स्टूडेंट्स के मार्क्स पर क्या असर हुआ। फिर स्कूल प्रिंसिपल या कमेटी चेयरपर्सन इसे संबंधित सीबीएसई रीजनल ऑफिस (CBSE RO) को भेजेंगे। रीजनल ऑफिस में सीबीएसई पॉलिसी के तहत इसे जांचा जाएगा। फिर रिजल्ट टैबुलेशन शीट में जरूरी बदलाव किये जाएंगे। ऐसे सभी मामले शीट में अपडेट करने के बाद सीबीएसई मुख्यालय भेजे जाएंगे, ताकि फाइनल रिजल्ट अपडेट हो सके।
टाइप 2 के लिए स्कूल रिक्वेस्ट सबमिशन फॉर रेजॉल्यूशन (SRSR) सिस्टम के जरिये रीजनल ऑफिस को आवेदन भेजे जाएंगे। इसका लिंक स्कूल लॉग-इन में उपलब्ध है।

टाइप 3- स्कूल SRSR के जरिये रीजनल ऑफिस को रिक्वेस्ट भेजेंगे। रिक्वेस्ट में टाइप-3 सेलेक्ट करेंगे, जिसका मतलब होगा मार्क्स का गलत कंप्यूटेशन या रिजल्ट अपलोडिंग में गड़बड़ी हुई है। एक कमेटी इसकी जांच करेगी जिसमें ये 4 लोग होंगे-
1. केवीएस/ एनवीएस के डिप्टी कमिश्नर या राज्य शिक्षा विभाग के डिप्टी डायरेक्टर या सिटी को-ऑर्डिनेटर
2. सीबीएसई के असिस्टेंट सेक्रेटरी (एग्जाम)
3. केवीएस या एनवीएस के प्रिंसिपल
4. किसी इंडिपेंडेंट स्कूल के प्रिंसिपल
यह कमेटी अपनी सिफारिश संबंधित रीजनल ऑफिस को देगी। रीजनल ऑफिसर इसे वेरिफाई करेंगे। अगर दावा सही है तो रिजल्ट में जरूरी बदलाव किये जाएंगे, जिसे सीबीएसई मुख्यालय भेजा जाएगा। स्कूल को भी जानकारी दी जाएगी।

यह भी पढ़ें-

उत्तराखंड एलटी भर्तीः 1431 पदों के लिए 44,302 ने दी परीक्षा

यहां आया 129 पदों पर भर्ती का सुनहरा मौका

यूकेएसएसएससी ने इन 11 कैंडिडेट्स को जारी किया नोटिस

उत्तराखंड में एलएलबी पास युवाओं के लिए भर्ती का मौका

उत्तराखंड लोक सेवा आयोग प्रवक्ता भर्ती से जुड़ी यह प्रक्रिया हुई स्थगित

सीटीईटी का पैटर्न बदला, इस बार से ऑनलाइन एग्जाम

उत्तराखंड में वन विभाग, नगर निगमों, संस्कृति निदेशालय में निकली भर्ती

यह भी पढ़ें-
काम की बात : उत्तराखंड के प्राइवेट स्कूलों की शिकायत के लिए टोल फ्री नम्बर जारी
मौका : किशोर वैज्ञानिक प्रोत्साहन योजना के आवेदन शुरू, जल्दी करें
Job : यहां आया 129 पदों पर भर्ती का मौका
शाबाश : हॉकी स्टार वंदना कटारिया को तीलू रौतेली सम्मान, सीएम ने दिए 25 लाख

सीबीएसई रिजल्ट से नहीं संतुष्ट तो मिलेगा एग्जाम का मौका, डेट्स हुईं जारी
एलएलबी पास युवाओं के लिए नौकरी का बड़ा मौका, क्लिक करें

यह भी पढ़ें-

उत्तराखंड में कल से खुलेंगे स्कूल, विस्तार से एसओपी यहां देखें

UGC हर स्टूडेंट का बनाएगा एकेडमिक क्रेडिट बैंक खाता, यहां समझें यूजीसी की एबीसी

देहरादून की इस यूनिवर्सिटी ने सेशन शुरू होने से पहले शुरू किया कोविड वैक्सीनेशन कैंप

Read Also :- दून यूनिवर्सिटी एडमिशन : शुरू हुए आवेदन, यहां देखें पूरी जानकारी

यह भी पढ़ें-

10वीं पास युवाओं के लिए 25 हजार से अधिक पदों पर निकली भर्ती

एनडीए एग्जाम के आवेदन करने वाले 211 कैंडिडेट्स रिजेक्ट, लिस्ट यहां देखें

नाबार्ड में 162 पदों पर निकली अहम भर्ती

यूपी में डीएलएड की दो लाख 42 हजार सीटों के लिए 20 से आवेदन

उत्तराखंड लैब असिस्टेंट भर्ती का सिलेबस हुआ जारी

धामी सरकार ने दी युवाओं को बड़ी सौगात, कैबिनेट बैठक में लिया यह अहम फैसला

देश के 11 बैंकों में निकली क्लर्क की बड़ी भर्ती

10वीं, 12वीं पास युवाओं के लिए इस मंत्रालय में 458 पदों पर भर्ती का मौका

नौकरी की और जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

 

यह भी पढ़ते चलें-

डॉ. आर राजेश कुमार बने देहरादून के डीएम, बड़े पैमाने पर अधिकारियों के तबादले

उत्तराखंड शिक्षा विभाग में तबादलों का सीजन, सीमा जौनसारी बनी शिक्षा निदेशक

उत्तराखंड में एमबीबीएस इंटर्न स्टूडेंट्स को सरकार ने दी बड़ी सौगात

अब यूपी-उत्तराखंड के इन कॉलेजों से हिंदी में करें बीटेक, एआईसीटीई ने दी अनुमति

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *