22 साल की उम्र में हिमांशु बन गया आईएएस, पढ़ें कहानी

Civil Service Result 2018 में हिमांशु ने लिखी सफलता की नई इबारत, देश में पाई 26वीं रैंक

Upsc success story

कामयाबी उन्हीं को मिलती है, जिनके सपनों में जान होती है…कुछ ऐसी ही कहानी है हिमांशु की। महज 22 साल की उम्र में हिमांशु ने आईएएस बनकर दिख दिया कि मेहनत का कोई विकल्प नहीं है।

हरियाणा के हिसार जिले के शहर हांसी निवासी पंकज नागपाल के पुत्र हिमांशु नागपाल ने यूपीएससी परीक्षा में 26वीं रैंक हासिल करके इतिहास रचा है। हिमांशु ने मात्र 22 साल की उम्र में अपने पहले ही प्रयास में ये सफलता हासिल की है। इस उपलब्धि पर हिमांशु नागपाल के परिवार व दोस्तों में जश्न का माहौल है। यूपीएससी परीक्षा परिणाम घोषित होते ही हिमांशु की दादी शीला देवी, माता पुष्पलता, भाई राघव नागपाल, चाचा नरेश कुमार सहित पूरे परिवार में खुशी की लहर दौड़ गई।

हिमांशु ने बताया कि उन्हें कुछ बन दिखाने की प्रेरणा अपने माता-पिता से मिली। उनके परिजनों ने हर कदम पर उनका पूरा मार्गदर्शन किया। स्कूली शिक्षा के दौरान ही उन्होंने आईएएस बनकर देश की सेवा करने का लक्ष्य बना लिया था। स्कूलिंग खत्म होते ही वे यूपीएससी की परीक्षा की तैयारी में जुट। दिल्ली के एक सेंटर से कोचिंग लेते हुए कड़ी मेहनत की और देश भर में 26वीं रैंक हासिल की।

हिमांशु नागपाल की दादी शीला देवी ने बताया कि स्कूल के समय से ही हिमांशु अपनी पढ़ाई को लेकर गंभीर था। वह हमेशा अच्छे नंबर लेकर आया। वह मकान की तीसरी मंजिल पर बैठकर घंटों तक पढ़ाई करता था। दिल्ली में पढ़ाई के दौरान उसने हांसी में अपने घर के तमाम कार्यक्रमों में आना ही कम कर दिया था। दिवाली व होली के त्योहार पर भी घर पर न आकर उसने यूपीएससी की परीक्षा की तैयारी करना जारी रखा, और इसका नतीजा आज सभी के सामने है।

हिमांशु बताते हैं कि वे लोगों के लिए कुछ करना चाहते थे, इसलिए यूपीएसएसी क्लीयर करने का सपना पूरा करने की ठानी।  कुछ मुश्किलें जरूर आई, लेकिन परिवार ने पूरा सपोर्ट किया। हिमांशु नागपाल ने हांसी के श्री काली देवी विद्या मंदिर से बारहवीं में टॉप किया था। उसके बाद दिल्ली विश्वविद्यालय के हंसराज कालेज से बीकॉम की। इससे पहले हिमांशु सीए की लेवल-टू की परीक्षा में भी देश भर में नौवां स्थान प्राप्त करके अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा चुका है।

हिमांशु जैसी सफलता की कहानियां पढ़ने को क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *