सीबीएसई में सिलेबस घटने के बाद पेपर के पैटर्न भी बदले, यहां देखें

CBSE 10th, 12th Board Exam :  अगले साल की बोर्ड परीक्षाओं में नजर आएंगे कई बदलाव

cbse

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने कोरोना महामारी के दौर में सिलेबस में 30 % की कमी करने के बाद अब पेपर के पैटर्न भी बदल दिए हैं। एक ओर जहां ऑब्जेक्टिव टाइप क्वैश्चन की संख्या बढ़ाई गई है तो दूसरी ओर कई पेपर में चार के बजाए दो ही खंड कर दिए गए हैं। हालांकि परीक्षा की मार्किंग स्कीम में कोई बदलाव नहीं किया गया है।

 

किस पेपर में क्या हुआ बदलाव

हिंदी –10वीं में अब चार खंड की बजाय दो खंड में 40-40 अंक के प्रश्न होंगे। पहले खंड में ऑब्जेक्टिव और दूसरे में शॉर्ट एंड लॉन्ग आंसर टाइप के सवाल पूछे जाएंगे।

इंग्लिश – 12वीं बोर्ड में दो भागों में मल्टीपल चॉइस और शॉर्ट एंड लॉन्ग आंसर टाइप सवाल पूछे जाएंगे।

बायोलॉजी –12वीं बायोलॉजी में पांच की जगह चार भाग होंगे। सवालों की संख्या 27 से बढ़ाकर 33 कर दी गई है।

मनोविज्ञान –12वीं मनोविज्ञान विषय में प्रश्नों की संख्या 17 से बढ़ाकर 21 तक की गई है।

आर्ट्स –12वीं में मल्टीपल चॉइस प्रश्नों का संख्या 18 की जगह 15 कर दी गई।

फिजिक्स –विषय में तार्किक क्षमता से जुड़े प्रश्न शामिल किए हैं। पहले भाग में 1-1 अंक के चार तार्किक क्षमता वाले प्रश्न पूछे जाएंगे।

केमेस्ट्री –12वीं में कुल 33 प्रश्न पूछे जाएंगे। इसमें पहले 2 प्रश्न 1-1 अंक के बहु विकल्पीय या तार्किक क्षमता वाले होंगे।

 

CBSE की अपडेट्स के लिए क्लिक करें

Jobs की जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *